शोभा अक्षर 

पुस्तके पहुंची

‘बात अभी खत्म नहीं हुई’ में दस कहानियों में स्त्री

पुरुष के पल-पल बदलती स्थितियों की एक तस्वीर यह किताब वाणी प्रकाशन से प्रकाशित है। जैसा कि किताब का शीर्षक है, ‘बात अभी खत्म नहीं हुई’, यह परिलक्षित करता है कि किताब में कई ऐसे मुद्दे हैं जिस के आयाम अभी अपने गंतव्य की ओर नहीं पहुंचे हैं, उन्हें अभी अपना लक्ष्य नहीं मिला, शायद अभी बात बहुत आगे तक जा....

Subscribe Now

पूछताछ करें