पंकज शर्मा

आवारा लोकप्रियता के दौर में

इस संसार में लोकप्रियता हासिल करने की चाहत किसे नहीं होती? समाज में हर कोई अपना एक विशिष्ट स्थान बनाना चाहता है। यह एक सामान्य मनोविज्ञान है, इसे गलत नहीं माना जाना चाहिए। दिक्कत लोकप्रियता की चाहत में नहीं है। उसके पैमाने में है। मुश्किल तब और बढ़ जाती है, जब साधारण जीवन जीने वाले शख्स सिने-जगत के अभिनेता-अभिनेत्रियों जैसी लोकप्रियता हासिल करने का ख्वाब पाल लेते हैं....

Subscribe Now

पूछताछ करें