जागृति सौरभ

संवेदना और बौद्धिकता के संतुलन से रची कहानियां


समकालीन कहानीकारों में दामोदर दत्त दीक्षित का नाम महत्वपूर्ण है। उनकी कहानियां समूचे भारतीय समाज की सच्ची तस्वीर प्रस्तुत करती है। असल में इनकी कहानियों से होकर गुजरना भारत के वास्तविक रंग को समझने की तरह है। भारतीय समाज की जटिलता, संकीर्णता, विसंगति और विषमता को बड़ी बरीकी से दामोदर दत्त दीक्षित उकरने का प्रयास करते हैं।
‘प्रभात प्रकाशन’ से उनकी लोकप्रिय ....

Subscribe Now

पूछताछ करें