प्रेम भारद्वाज 

एक आम आदमी का हलफनामा 

मैं प्रेम भारद्वाज, पुत्र श्री एस.के. शर्मा, पता: बी-107, सेक्टर-63, नोएडा, उत्तर प्रदेश। यह घोषणा करता हूं कि मैं इस देश का आम आदमी हूं। कि मैं गरीब नहीं हूं। कि अमीर भी नहीं। न बहुत अच्छा, न बुरा। झूठ नहीं के बराबर बोलता हूं। ईमानदारी अभी बची हुई है और धूमिल की कविता-‘यहां सच का बुरा हाल क्यों है, एक ईमानदार आदमी को अपनी ईमानदारी पर मलाल क्यों है’ पढ़ने के बावजूद मुझे अपनी ईमान....

Subscribe Now

पूछताछ करें