प्रेम जनमेजय

प्रेम भारद्वाज के साथ प्रेम भाव

फ्रांस के प्रसिद्ध दार्शनिक रूसो का कथन है- मनुष्य स्वतंत्र पैदा होता है लेकिन सदा जंजीरों में जकड़ा रहता है।’’ इस असार संसार में अनेक सारगर्भित जंजीरे हैं। जंजीरो द्वारा आपको हत्या के आरोप में भी बांधा जाता है और आजादी की लड़ाई के सैनिक के रूप में भी। जंजीरो में बंधे आजादी के लड़ाके को फांसी का तख्ता भी मिलता है पर जब जेल के दरवाजे खुलते हैं तो सत्ता के द्वार भी खुलते है....

Subscribe Now

पूछताछ करें