विनोद तिवारी

सरस्वतीचन्द्र

 भारतीय ‘प्रेमाआख्यान’ और पाश्चात्य 'रोमांस' के विरल संयोग की एक दुखांत प्रेमकथा 

मुझे बड़े-बड़े, वृहद उपन्यास पढ़ना खूब पसंद है। चंद्रकांता संतति, मृत्युंजय, गणदेवता, अन्ना केरेनिना, अपराध और दंड आदि के नाम इस पसंदगी में शुमार हैं । गुजराती के प्रसिद्ध कथाकार गोवर्धनराम माधवराम त्रिपाठी (1855-1907) का चार खंडों में संरचित वृहद उपन्यास ....

Subscribe Now

पूछताछ करें