कृष्ण बिहारी

डुबकी 

सिकहरा ताल से निकलती है आमी ...
आमी नदी . मेरे गाँव को घेर कर बहती है . छताई पुल से सरया , कोठा , भलुआन होते हुए यह नदी मेरे गाँव को पच्छूं से घेरती है और उत्तर की ओर डीह के नीचे से होते हुए पूरब आती है . वहीं से यह उनवल होते हुए कौड़ीराम के आगे राप्ती में मिल जाती है . मगर कहानी आमी की नहीं है जो सिकहरा ताल से निकलकर कबीर के मगहर होती हुई गोरखपुर आती है . कहानी उस डुबकी की है जिसे अगर म....

Subscribe Now

पूछताछ करें