नीलोत्पल रमेश

'नमकसार': स्त्री-विमर्श को मजबूती प्रदान करती कहानियां

कहानी वर्तमान समय में सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली विधा है । वैसे तो अनेक विधा में लेखन जारी हैं, लेकिन कहानी विधा प्राचीन काल से ही प्रचलित रही है। दादी-मां की कहानियां बचपन में ही कहानी के प्रति जिज्ञासा उत्पन्न कर देती हैं । यही वजह है कि बचपन में पड़े कहानी के बीज बड़ा होने पर विकास पाते जाते हैं ,और एक मुकम्मल कहानी का निर्माण करते जाते हैं ।किसी भी व्यक्ति के अंदर कहानी....

Subscribe Now

पूछताछ करें