स्मृति शुक्ल

किस्सागोई का नया अंदाज: स्वयं प्रकाश का कथेतर गद्य

स्वयं प्रकाश हिन्दी कथाजगत में एक प्रतिष्ठित नाम हैं। उनकी कहानियों और उपन्यासों में राजस्थान का परिवेश, वहां के लोग और उनके जीवन अनुभव प्रतिफलित हुए हैं। उनका प्रसिद्ध उपन्यास ‘बीच में विनय’ राजस्थान के भीनमाल के परिवेश पर आधारित है। भूमंडलीकरण के व्यापक प्रभावों और समाज में तेजी से आये बदलावों की शिनाख्त करके उन्होंने ‘ईधन’ शीर्षक से जो उपन्यास लिखा था ....

Subscribe Now

पूछताछ करें