पंखुरी सिन्हा

प्रकृति और मनुष्य के रिश्ते का पुनर्पाठ

 स्वयं प्रकाश हिंदी साहित्य का वह लब्ध प्रतिष्ठित नाम है, जिसने कुछ अछूते, विरल विषयों पर समृद्ध लेखन किया है. हालाकि उनके द्वारा रचा गया इस किस्म का साहित्य बहुत समृद्ध और प्रचुर है, इस लेख में उनकी एक कहानी 'नैंसी का धूड़ा ' पर फोकस कर रही हूँ. यह एक बेहद सशक्त कहानी है, जिसमें आदमी और जानवर के बीच का आत्मीय सम्बन्ध दिखाया गया है. दोनों ही संवेदनशील प्राणी हैं और प्रकृति ....

Subscribe Now

पूछताछ करें