मुकेश कुमार

ब्राह्मण

जिस दिन मानचित्र पर 

जाति और धर्म की रेखाएँ खिंचना बंद होगी

उसी दिन से मनुष्यता के हक में ही सारे फैसले होंगे

 

वेदों की शुद्धता नष्ट नहीं होगी, 

उसकी ऋचाएँ, मंत्र, श्लोक अपना अर्थ नहीं खो देंगे !

तब भी बरकरार रहेगी शिवतांडव की सार्थकता 

Subscribe Now

पूछताछ करें