मूल्यांकन

  • कॉर्पोरेट जगत की चमक के पीछे की दुनिया

    राकेश बिहारी हिंदी युवा कहानी का महत्वपूर्ण नाम है। हिंदी युवा लेखन को लेकर उनकी एक महत्वपूर्ण किताब ‘केंद्र में

    पूरा पढ़े
  • दम तोड़ती मानवीय संवेदनाओं को बचाने की जद्दोजहद

    एस-आर-हरनोट अपने हिंदी कथा-साहित्य में नित नवीन विषय-वस्तुओं से पाठकों का परिचय कराने के साथ-साथ सदियों से मनमोहित

    पूरा पढ़े
  • आलोचना की निगाह में  प्रेमचंद का कथा-संसार

    प्रेमचंद हिंदी कथा साहित्य के ऐसे लेखक हैं जिनके लिखे पर वर्षों से आलोचना में विचार होता रहा है।

    पूरा पढ़े
  • काली कोठरियां में बीते नहि रतिया हो

    काली कोठरियां में बीते नहि रतिया हो

    पूरा पढ़े
  • स्त्री संवेदनाओं से परिपूर्ण है ‘ऑफ़ व्हाइट’

    ‘ऑफ व्हाइट’ शब्द, जिस ओर इशारा कर रहा है वो सिर्फ सुर्ख गुलाबी रंग पैकेट में रखा एक शॉल का रंग नहीं हैं।

    पूरा पढ़े
  • सृजन-संदर्भ

    ‘ब्राह्मण’ के यशस्वी संपादक  पं- प्रताप नारायण मिश्र

    पूरा पढ़े

पूछताछ करें