कहानी

  • मौसम

    कार्यालय के गेट पर जैसे ही मेरी गाड़ी पहुंची गार्ड ने अभिवादन के साथ गेट खोला। गेट से मैंने अपनी गाड़ी पार्किंग की ओर

    पूरा पढ़े
  • चढ़ावा

    उसी के कहने पर मैंनें इस लड़की को अपने घर में काम पर लगाया था अन्यथा उन ‘बड़े लोगों’ पर मुकददमा होने के बाद, बाकी जिन-ज

    पूरा पढ़े
  • अंतिम सच

    बड़े चैन की जिंदगी बीत रही थी मेहरा साहेब की। पत्नी भी थोड़ी देर में आकर साथ पड़ी कुर्सी पर बैठ जायेंगी। उनकी दिनचर्या

    पूरा पढ़े
  • नई देह में नए देस में

    ठाकुर साहब संस्कृति प्रेमी हैं। ठाकुर साहब कला प्रेमी हैं। ठाकुर साहब पुरातन प्रेमी हैं। अब तो ठाकुर साहब देश की स

    पूरा पढ़े

पूछताछ करें