स्थाई स्तंभ 

  • अंग्रेजी उपनिवेश और भारतीयता

    पवन कुमार वर्मा भारतीय विदेश सेवा के एक सफल डिप्लोमेट् तो है ही, एक लेखक के रूप में भी वे उतने ही प्रतिष्ठित हैं ।गा

    पूरा पढ़े
  • मूर्खों का धार्मग्रंथ है मनुस्मृति

    मनुस्मृति शायद भारत की सबसे विवादास्पद पुस्तक है। इस पुस्तक को लेकर लोगों के बीच व्यापक मतभेद हैं।  कुछ लोग इसे धर

    पूरा पढ़े
  • पेरिस की हवा में ही आजादी और रोमांस है

    पाखी पत्रिका के प्रेम विशेषांक को पलटते हुए मुझे पांच  साल पहले पेरिस के भारतीय दूतावास में अपने मित्र राजनयिक की

    पूरा पढ़े
  • सुशांत से प्रशांत तक भारतीय लोकतंत्र

    वैसे तो दुनिया के हर लोकतंत्र को अक्सर संवैधानिक और लोकतांत्रिक मूल्यों की कसौटी पर खरा उतरना होता है और किसी भी स

    पूरा पढ़े
  •  सद्दाम हुसैन ने दुनिया विभाजित कर दी 

    आदमी का नाम उसके काम से चलता है । औलाद से एक-दो पुश्त चल जाये तो बड़ी बात है । सद्दाम हुसैन के साथ तो एक-दो पुश्त वाली बा

    पूरा पढ़े
  • महापंडित राहुल सांकृत्यायन

    महापंडित राहुल सांकृत्यायन का व्यक्तित्व तो विराट था ही, उनका कृतित्व भी विशाल था। उनके जीवन काल में उनकी 125 पुस्तक

    पूरा पढ़े
  • खास-खबर

    जे-सी-जोशी स्मृति शब्द साधक सम्मान-2019 

    पूरा पढ़े
  • पुस्तकें पहुंची

    ‘पेपरवेट’ कविता-संग्रह, ‘माण्डवी प्रकाशन’ से प्रकाशित है। इस पुस्तक की लेखिका डॉ राजविन्दर कौर जो हिन्दी, पंजाबी,

    पूरा पढ़े

पूछताछ करें