स्थाई स्तंभ 

  • उत्तर आधुनिकतावादी वातावरण में साहित्य

    पिछली किश्त के आखिर में हमने उस उत्तर आधुनिकतावादी ‘सांस्कृतिक वातावरण’ ने  हमारे रोजमर्रा के अनुभवों व रचनात्म

    पूरा पढ़े
  •  विज्ञान, वैज्ञानिक सोच और आत्मनिर्भर भारत

    मैट रिडले(Matt Ridley) लंदन के जाने-माने पत्रकार हैं. टेलीग्राफ, टाइम्स, स्ट्रीट जनरल आदि  मशहूर अखबारों के स्तंभ लेखक। विश

    पूरा पढ़े
  • धीमी धीमी चाल ये भूचाल न हो जाए.... किसान नेता तो हैं लेकिन किसान राजनीति नहीं बची

    पंवार की ये कविता सुनकर न सिर्फ किसान आंदोलन जोश से भर गया था, बल्कि वास्तव में किसान आंदोलन की धीमी धीमी चाल सियासी

    पूरा पढ़े
  • अपराध और दण्ड

    मैंने लिखा है कि अपराध एक प्रवृत्ति है । इस पर अंकुश तो लगाया जा सकता है लेकिन इसकी हत्या नहीं हो सकती । प्रवृत्ति आ

    पूरा पढ़े
  •  सृजन-संदर्भ/परिक्रमा हिंदी साहित्य: वर्ष-2020

    ‘सन्नाटे का छंद’ कोरोना काल। दुनिया के इस छोर से उस छोर तक विश्व इतिहास के पन्ने पलटें तो तमाम महान शासकों, सम्राटो

    पूरा पढ़े
  • वास्को डी गामा की साइकिल

    प्रवीण कुमार की कहानियों में आम जीवन से जुड़े अतरंगी मगर जरूरी सवाल तो होते ही हैं साथ ही मीडिया और राजनीति के तिकड़म

    पूरा पढ़े

पूछताछ करें